कार वाली भाभी को जमकर चोदा Hindi Bhabhi Xxx Story

कार वाली भाभी को जमकर चोदा Hindi Bhabhi Xxx Story
Total views : 1138
प्रेषक : अमन
हैल्लो दोस्तों, मेरा नाम अमन है, में दिल्ली का रहने वाला हूँ और में पिछले 3 साल से भीआईपीचोटी डॉट कॉम का नियमित पाठक हूँ। मेरी उम्र 26 साल है और में अभी सिंगल हूँ। मेरी भीआईपीचोटी डॉट कॉम पर यह पहली स्टोरी है। अब में आपका समय ज्यादा ख़राब ना करते हुए सीधा अपनी स्टोरी पर आता हूँ। यह बात पिछले साल दिसम्बर की है। दिल्ली की सर्दियों में ठंड ज़्यादा पड़ रही थी, तो इसलिए अंधेरा जल्दी हो जाता था। फिर एक दिन रात को 9 बजे में अपने घर वापस आ रहा था तो रास्ते में एक खाली सड़क पर से गुज़र रहा था। सड़क पर एक होंडा सिटी कार रुकी हुई थी और पार्किंग लाईट ऑन थी, तो मैंने अपनी कार थोड़ी सी स्लो कर ली। फिर जब में उस कार के पास पहुँचा, तो 27-28 साल की एक बहुत ही स्मार्ट और सेक्सी सी लेडी कार के पास खड़ी थी और अब वो मुझे रुकने का इशारा कर रही थी।
फिर जब मैंने अपनी कार उसके पास के जाकर रोकी तो वो मेरी कार के पास आई। तो मैंने देखा कि उसने लाईट पिंक कलर का टाईट सलवार सूट पहना हुआ था, क्या फिगर था उसका? उसका फिगर साईज़ 36 से थोड़ा ज़्यादा ही होगा और उसका पूरा फिगर 36-28-34 होगा और वो दिखने में बहुत सेक्सी थी, पजामी सूट टाईट फिटिंग वाला होता है तो इसलिए लाईट पिंक सूट के अंदर डार्क पिंक कलर के अंडरगारमेंट्स भी साफ-साफ़ दिख रहे थे। उसके सूट का फ्रंट और बैक इतना डीप था कि क्या कहूँ? और उसकी बैक साईड पर तो पूरी चैन लगी हुई थी और वो गोरी तो इतनी ज़्यादा थी की पहचान में नहीं आ रहा था कि सूट का कलर क्या है? और स्किन का कलर क्या है? फिर मैंने अपनी कार की विंडो नीचे की और फिर मैंने उससे पूछा कि एनी प्रोब्लम मेडम? तो वो मेरी कार की विंडो वाली जगह पर ही थोड़ी सी झुककर खड़ी हो गयी और कहने लगी कि मेरी कार का पेट्रोल ख़त्म हो गया है।
अब जब वो यह कह रही थी तो उसके झुकने के कारण उसकी क्लीवेज मुझे बिल्कुल डीप तक नजर आ रही थी। अब मेरा मन तो कर रहा था कि उसकी ब्रा को फाड़ डालूं और उसकी गोरी-गोरी ब्रेस्ट को अपने मुँह में डाल लूँ, लेकिन मैंने अपने आप पर कंट्रोल किया। तब मैंने कहा कि नो प्रोब्लम मेडम, आप मेरे साथ आइए, में आपको अपनी कार में पेट्रोल पंप तक ले चलता हूँ। मेरे पास डिक्की में तेल की एक खाली प्लास्टिक की बोतल भी पड़ी रहती थी, 5 लीटर की। तो उसने कहा कि थैंक यू सो मच और मेरे साथ मेरी कार में बैठ गयी। अब वो मेरी पास वाली सीट पर बैठी थी और उसके बदन से इतनी प्यारी-प्यारी महक आ रही थी कि किसी का भी कंट्रोल टूट जाता। फिर रास्ते में मैंने उससे पूछा कि मेडम आप अकेली इस वक़्त कहाँ से आ रही है?
उसने कहा कि मेरे पति काम के सिलसिले से 4-5 दिन के लिए बाहर गये हुए है और में घर पर अकेली बोर हो रही थी तो अपनी एक सहेली के साथ सिनेमा में मूवी देखने गयी थी और अपनी फ्रेंड को उसके घर ड्रॉप करके अपने घर वापस जा रही थी, तो रास्ते में पेट्रोल खत्म हो गया। फिर हमने पेट्रोल पंप से पेट्रोल लिया और फिर रास्ते में उसने मेरे बारे में पूछा कि आप क्या करते हो? और आपकी शादी हुई या नहीं? तो मैंने भी अपने बारे में सब कुछ बताया। फिर जब हम वापस उसकी होंडा सिटी कार के पास पहुँचे तो जाते समय उसने मेरा थैंक्स किया और मेरा फोन नंबर माँग लिया। मैंने कहा कि मेडम आप मेरे फोन नंबर का क्या करोगी? तो तब उसने बहुत ही शरारती सी आवाज में कहा कि आप जैसे हेल्पफुल बंदे की क्या पता कब जरूरत पड़ जाए? फिर रात को जब में सोने लगा, तो उसका थैंक्स का और गुडनाईट का मैसेज आ गया।
अब मुझे तो पता नहीं था कि यह नंबर किसका है? तो मैंने रिप्लाई किया की आप कौन हो? तो उसने बताया कि में सुनीता हूँ, आपने आज मेरी मदद की थी पेट्रोल लाने में, तो तब मुझे समझ आया। अब रात का टाईम था और मम्मी पापा पास वाले रूम में थे, तो में फोन पर बात तो कर नहीं सकता था इसलिए मैंने उसके साथ मैसेज पर ही चैट की। तो तब उसने मुझे अपने बारे में काफ़ी कुछ बताया और मेरे बारे में भी पूछा। फिर रोजाना उसके मैसेज आने स्टार्ट हो गये और कभी-कभी फोन भी आ जाता था। फिर धीरे-धीरे हमारा रिश्ता बढ़ता गया और हमारी फ्रेंडशिप हो गयी। फिर मुझे पता चला कि उसका पति बहुत ज्यादा ड्रिंक करता था और उसकी केयर नहीं करता था और उसके अभी कोई बच्चा भी नहीं था। अब जब भी उसका पति शहर से बाहर जाता था, तो वो दिन में मुझे फोन जरूर करती थी और रात में जब उसका पति ड्रिंक करके टल्ली होकर सो जाता था, तो तब वो मेरे साथ मैसेज पर चैट किया करती थी।
फिर एक दिन बातों-बातों में ब्रा और पेंटी पर कोई बात स्टार्ट हो गयी। तो मैंने मज़ाक में उससे पूछ लिया कि तुमने आज कौन से कलर के अंडरगारमेंट्स पहने है? तो उसने मुझे कोई जवाब नहीं दिया। तो में भी चुप हो गया, लेकिन रात को 11 बजे उसका मैसेज आया, आज मैंने ऑरेंज कलर के पहने है। तो तब मुझे याद आया कि मैंने फोन पर उससे पूछा था कि तुमने आज कौन सा सूट पहना है। तो उसने बताया था कि उसने आज ब्लू सूट पहना था। तो मैंने कहा कि लेकिन तुमने तो आज ब्लू सूट पहना था। तो उसने रिप्लाई किया कि में सूट कि बात नहीं कर रही हूँ, मैंने ऑरेंज ब्रा और ऑरेंज पेंटी का कलर बताया है। अब यह मैसेज पढ़कर तो मेरा लंड खड़ा हो गया था। फिर उसका मैसेज आया कि उसके पति तो उसके पास रहते हुए भी कुछ नहीं करता, क्योंकि वो ड्रिंक करके सीधा सो जाता है और उसकी शादी को अभी सिर्फ़ 2 ही साल हुए थे।

फिर उसने कहा कि वो तो सेक्स के लिए तड़पती ही रहती है, क्योंकि उसका पति उसके साथ महीने में सिर्फ़ एक या दो बार ही सेक्स करता है और वो अपने शरीर की आग में तड़पती ही रह जाती है। फिर मैंने कहा कि में हूँ ना और फिर उस रात से हम रोज रात को मैसेज पर चैट करते हुए सेक्स करते थे। अब में रोजाना उसके अंडरगारमेंट्स के कलर पूछता था और फिर मैसेज करता कि में तुम्हारी ब्रा उतार रहा हूँ, फिर तुम्हारे निपल्स को अपने मुँह में डाल रहा हूँ। फिर पेंटी उतार रहा हूँ और वो फिंगरिंग करके अपने आपको संतुस्ट करती थी और कभी-कभी तो वो इतनी गर्म हो जाती थी कि उससे कंट्रोल नहीं होता था और वो फोन को वाइब्रेशन पर करके अपनी पेंटी के अंदर रख लेती थी और मुझसे कहती थी कि बार-बार कॉल करो, ताकि फोन वाइब्रेट करे और उसकी चूत को शांति मिले। फिर कुछ दिन तक रोज रात को ऐसा ही चलता रहा और अब मुझे तो अपने हाथ से ही मुठ मारकर सोना पड़ता था। दोस्तों ये कहानी आप भीआईपीचोटी डॉट कॉम पर पड़ रहे है।
फिर एक दिन रात को चैट पर उसने मुझसे कहा कि बधाई हो। तब मैंने कहा कि किस लिए? तो उसने कहा कि कल उसके पति 7 दिन के लिए आउट ऑफ इंडिया जा रहे है और उसकी सास भी किसी शादी को अटेंड करने दिल्ली जाएगी और वो भी परसों आएगी, तो हमारे पास इन्जॉय करने के लिए कल का दिन है और कल मुझे घर पर बुलाया। मैंने कहा कि रात को तो में रुक नहीं सकता, क्योंकि में घर पर क्या कहूँगा? तो उसने कहा कि कोई बात नहीं, तुम कल पूरा दिन मेरे साथ मेरी बाहों में रहना और शाम को वापस चले जाना। अब अगले दिन मेरे पापा कार लेकर कहीं गये थे। मैंने कहा कि आज तो मेरे पास कार नहीं है। वो मुझे अपनी होंडा सिटी में ही साराभा नगर मार्केट से लेने आई, जब सुबह के 11 बजे का टाईम था। फिर जब हम उसके घर पहुँचे तो वो भी साराभा नगर के पास ही रहती थी, गुरदेव नगर में, उसकी कोठी बहुत बड़ी थी।
उस दिन तो वो कहर ढा रही थी, उसने ब्लू रंग की केफ्री पहनी थी और साथ में ग्रीन कलर का स्ट्रेप्स वाला सेक्सी सा टॉप पहना हुआ था और उसकी पिस्ता कलर की सिल्क स्ट्रेप वाली ब्रा के स्ट्रेप्स भी नजर आ रहे थे, मतलब शी वाज़ रियली लुकिंग माइंड ब्लोइंग। उसकी कोठी तो बहुत बड़ी थी, उसकी कोठी में हर जगह ए.सी लगे हुए थे, उसके ड्रॉईग रूम में भी 2 ए.सी लगे हुए थे, वहाँ ठंड बहुत थी इसलिए वो मेरे लिए गर्म-गर्म कॉफी बनाकर लाई। वो सिर्फ़ एक ही कप लेकर आई थी और अब में सोफे पर बैठा था और फिर वो सीधी आई और मेरे ऊपर आकर ही बैठ गयी थी। फिर उसने और मैंने एक ही कप में कॉफ़ी पी। फिर कॉफी पीते ही उसने कप को साईड में रखा और अपना चेहरा मेरे चेहरे के साथ रगड़ने लगी। आज भी उसके बदन से वही महक आ रही थी, जो उस दिन आ रही थी, जब में उससे पहली बार मिला था। फिर ऐसे करते-करते मैंने और उसने स्मूच स्टार्ट कर दी और फिर थोड़ी देर तक स्मूच करते-करते मैंने उसका स्ट्रेप्स वाला टॉप वहीं पर ही उतार दिया।
उसकी पिस्ता कलर की ब्रा इतनी सॉफ्ट और सिल्क कपड़े की थी कि जब में स्मूच करते हुए उसके बूब्स को दबा रहा था तो पता ही नहीं चल रहा था कि उसने ब्रा पहनी भी हुई है या नहीं। फिर जब मैंने उसके बूब्स को मसला तो वो पागल सी हो रही थी और फिर ऐसा करते-करते मैंने उसकी केफ्री का भी बटन खोल दिया और उसके घुटनों के नीचे तक कर दिया। फिर उसने अपनी केफ्री भी उतार दी और उसने क्या शानदार पेंटी पहनी हुई थी? वो भी ब्रा के साथ की मैचिंग पिस्ता कलर और सेम डिज़ाइन की थी, उसका बदन इतना गोरा था कि क्या बताऊँ? पहली बार एक पंजाब की गोरी का हुस्न इस कदर देखने को मिला था। अब वो मेरे सामने इस वक़्त सिर्फ़ ब्रा और पेंटी में थी, उसकी 36 साईज की बड़ी- बड़ी, गोरी-गोरी ब्रेस्ट और ऊपर से सेक्सी ब्रा पेंटी में कातिल लग रही थी। फिर उसने मेरी टी-शर्ट और जीन्स भी उतार दी और फिर मैंने उसके बदन को खूब चाटा। फिर उसने मुझे इशारा किया कि में उसको अपनी बाहों में उठा लूँ। मैंने उसको आधी नंगी ही अपनी बाहों में उठा लिया और उसको उसके बेडरूम की तरफ ले गया। उसका बेडरूम बहुत ही आलीशान था।
फिर मैंने उसे बेड पर लेटाया और खुद भी उसके साथ लेट गया। फिर हम दोनों ने फिर से स्मूच की और फिर में उसके ऊपर लेट गया और अब हम एक दूसरे को पागलों की तरह चूम रहे थे। फिर मैंने चूमते-चूमते अपना एक हाथ उसकी बैक साईड में डालकर उसकी सॉफ्ट ब्रा के हुक खोल दिए और बहुत ही प्यार से उसकी ब्रा को उतार दिया। अब उसकी गोरी-गोरी ब्रेस्ट मेरी आँखों के सामने आ गयी थी, उसके लाईट ब्राउन कलर के निप्पल थे। फिर मैंने उसके एक निप्पल को अपने मुँह में डालकर खूब चूसा और दूसरे को अपने हाथ से बहुत मसला था। फिर ऐसा करते-करते मैंने अपना एक हाथ उसकी पेंटी के अंदर डाल दिया। अब वो नीचे से पूरी तरह से गीली हो चुकी थी। फिर मैंने उसकी चूत में थोड़ी सी फिंगरिंग की और फिर उसके बाद में सीधा लेट गया और वो मेरे ऊपर आ गयी थी।

अब उसके बड़े बड़े बूब्स मेरे मुँह के पास लटकने लगे थे। मैंने फिर से उन्हें दबाया। फिर उसने मुझे मेरे माथे से चूमना स्टार्ट किया और नीचे की तरफ चूमती चली गयी। फिर उसने मेरा अंडरवेयर भी उतार दिया और मेरे लंड को चूमना चाटना शुरू कर दिया था। फिर उसने मेरे लंड को अपने मुँह में डालकर खूब अंदर बाहर करते हुए बहुत अच्छे से चूसा। फिर उसके बाद मैंने उसको सीधा लेटा दिया और बहुत प्यार से उसकी पेंटी को उतारा और उसकी पेंटी को चूमकर साईड में रख दिया। अब उस वक़्त वो मेरे सामने पूरी तरह से नंगी थी। फिर मैंने अपना लंड उसकी चूत में अंदर करना शुरू किया तो पहले तो मैंने धीरे-धीरे धक्के मारे और फिर एकदम से ज़ोर का झटका मारकर अपना पूरा 7 इंच लंबा लंड उसकी चूत में अंदर घुसा दिया। तभी उसके मुँह से बहुत तेज आवाज निकली आअहह, ऊऊहह। तो मैंने अपने लिप्स से उसके लिप्स को भी दबा दिया।
फिर थोड़ी देर के बाद जब उसको मज़ा आना शुरू हुआ तो तब उसने कहा कि और ज़ोर-ज़ोर से करो, अयाया, खा जाओ मुझे, फाड़ दो मेरी चूत को। फिर करीब 15 मिनट के बाद में झड़ गया और मैंने अपना सारा माल उसकी चूत के अंदर ही छोड़ दिया। अब उस दौरान वो 3 बार झड़ चुकी थी। फिर हम थोड़ी देर तक नंगे ही एक दूसरे के साथ लिपटकर लेटे रहे और फिर उस दिन हमने दो बार फिर से सेक्स किया। फिर उसके बाद हम करीब 4-5 बार मिले और हम दोनों ने खूब मज़े किए। अब पिछले हफ्ते उसका अपने पति के साथ हमेशा के लिए ऑस्ट्रेलिया जाकर सेट्ल होने का प्रोग्राम बन गया था। फिर वो ऑस्ट्रेलिया चली गयी ।।
धन्यवाद